पितरों को प्रसन्न करने के कुछ अचूक उपाय

ऐसा माना जाता है कि पितरों के प्रसन्न रहने पर धन की कभी भी  कमी नहीं होती है
हर सोमवार को 1 किलो चावल मंदिर लेकर जाएं और एक मुट्ठी चावल शिवलिंग के ऊपर चढ़ा दें और बाकी बचा हुआ चावल गरीबो में दान दे, ऐसा लगातार 5 सोमवार करने से ही आपकी धन की कमी दूर हो जाएगी
अगर आप नौकरी चाहते हैं या नौकरी में तरक्की पाने की चाहत रखते हो तो मीठा चावल बना कर कौआ को खिलाएं इससे पितरों प्रसन्न होते हैं और पितरदोष भी कट जाता है
पितरदोष को पूरी तरह मिटाने के लिए को अमावस्या के दिन कौआ को मीठी रोटियां या मीठी चावल खिलाएं यह काम सुबह-सुबह करें, शाम या दोपहर के समय ना करे
पितर जाते-जाते प्रसन्न रहें इसके लिए आप अपने दरवाजे पर एक दीपक जलाएं और तथा खाने के लिए भी वहां पर कुछ रख दें इसे पितर के जाते समय उनके रास्ते में रोशनी बनी रहती है तथा उन्हें भूख भी नहीं लगती है
अपने पितरों की तस्वीर दक्षिण दिशा में लगाएं अपने पितरों की तस्वीर पर हार चढ़ाएं और दीपक जला कर आरती करें  इसे पितरदोष में मुक्ति मिलेगी
एक खाना अपने पूर्वजों के मनपसंद का बनवाए और वह खाना पंडितों तथा गरीबों को खिलाएं, इससे पितर  प्रसन्न होंगे और आशीर्वाद देकर जाएंगे
अपनी समर्थ अनुसार गरीबों को खाना खिलाएं और कपड़ों का वितरण करें इससे भी इससे भी पितर प्रसन्न होते हैं

कुछ खास उपाय जिनसे बच्चे परीक्षा में अच्छे नंबरों से पास हो जाएं

 

परीक्षा  के 1 दिन पहले भगवान श्रीगणेश को इलायची और सुपारी का भोग लगाएं और परीक्षा वाले दिन उसे खाकर  परीक्षा देने जाए ।

 

अमेथिस्ट का स्टोन गले में लॉकेट के रूप में पहने इसे चीजे याद रखने में मदद मिलती है तथा पढ़ाई में मान लगता है ।

 

परीक्षा वाले दिन तुलसी तथा सूर्य देव में जल चढ़ाने के बाद परीक्षा देने जाना चाहिए इससे आत्मविश्वास बढ़ता है ।

 

परीक्षा का पेपर देते समय एक हाथ में ज्ञान मुद्रा का प्रयोग करें इससे मन शांत रहता है, तथा परीक्षा भी अच्छा जाता है ।

 

ब्राह्मणी की जड़ी बूटी को अपने पॉकेट में रखें जब आप परीक्षा दे रहे हो तो इसे परीक्षा अच्छा जाता है ।

 

मोर का पंख पूर्व की दीवार पर लगाएं इससे बच्चों का पढ़ाई में मन लगता है ।

 

परीक्षा देते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप अपना सिर ना खुजलाये यह एक तरह का अपशकुन माना जाता है, तथा इसे यह भी माना जाता है कि बुद्धि कम हो जाती है

 

अरोमाए आयल बच्चों के कमरे में छिरके इसे बच्चों का कंसंट्रेशन लेवल बढ़ जाता है ।

वास्तु अनुसार किचन कहां होनी चाहिए

  1. घर में किचन दक्षिण पूर्व की दिशा में बनाना चाहिए दक्षिण पूर्व की दिशा अग्नि की दिशा मानी जाती है इससे अग्नि देव प्रसन्न होते हैं और घर में लड़ाई झगड़े कम हुआ करते है
  2. घर में कभी भी उत्तर की दिशा में किचन न बनवाएं इससे घर की महिलाओं का स्वास्थ्य खराब रहता है
  3. घर के रसोई में अगर दाई ओर पानी का नल है तो इससे घर  के किसी सदस्य को ब्लड शुगर की बीमारी होने की आशंका होती है
  4. अपने किचन की बीम या पीठ के पीछे किसी भी प्रकार का कोई दरवाजा ना बनवाएं इससे घर में बरकत नहीं आती है
  5. अपने किचन में चाकू छुरी या अन्य धार वाली वस्तु को पश्चिम दिशा में रखना चाहिए तथा उसे ढक कर भी रखें इससे घर में लड़ाई नहीं होती है
  6. रसोई मैं अनाज रखने का स्थान हमेशा दक्षिण पश्चिम की दिशा की ओर होना चाहिए
  7. इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी किचन के दरवाजे के सामने टॉयलेट का दरवाजा ना हो
  8. इस बात का ध्यान रखें कि कभी भी किचन के दरवाजे के सामने टॉयलेट का दरवाजा ना हो
  9. ब्लैक टूमलाइन स्टोन घर में रखना चाहिए इससे शनि दोष खत्म हो जाता है
  10. किचन मैं जब भी खाना बनाए तब आप इस बात का ध्यान रखें कि आपका मुंह पूर्व की ओर हो

वास्तु अनुसार पति पत्नी के संबंध सुधारने के उपाय

  1. आपका बेडरूम दक्षिण पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए अगर ऐसा नहीं है तो रोड क्रिस्टल एंड मून क्रिस्टल अपने सर के   सिरहाने रखे
  2. अगर आपके कमरे में चार कोने नहीं है तो कमरे के एक कोने में एक लाल पट्टी करवा ले
  3. आप अपने बेडरुम में लाइट ग्रीन या पिंक कलर करवाएं इससे प्यार बढ़ता है
  4. बैडरूम में शीशा ना लगवाए अगर लगवाना भी है तो उसे उत्तर या पूर्व  की  दिशा में लगवाए और रात को उसे  ढक दे
  5. अपने पार्टनर के साथ हस्ती हुई तस्वीर अपने कमरे के दक्षिण- पश्चिम की ओर लगाएं
  6. अपने बेडरुम में किसी भी तरह के अचार या चकू-छुरी ना रखें अगर रखना है तो राधे कृष्ण की झूला झूलती भी तस्वीर रखें
  7. अगर पति-पत्नी के बीच में बहुत ज्यादा झगड़े और लड़ाईयां होती है तो वह अपने बेडरूम में एक मटकी में मधु भरकर रखें इससे पति-पत्नी के संबंधों में  मिठास आता है
  8. अपने बेडरुम में मोर के पंखों का इस्तेमाल करें इससे पति-पत्नी के संबंधों को नजर नहीं लगती है

वास्तु अनुसार कौन सा पौधा घर के किस दिशा में लगाएं

  1. अपने घर में एक सफेद फूल का पौधा लगाया और उसे उस स्थान पर लगाएं जहां सुबह उठकर सबसे पहले आपकी नजर सीधे उस सफेद पर पड़ जाए, इससे आपके मन में और घर में शांति बनी रहती है।
  2. चाहे तो आप अपने घर में आर्टिफिशियल फूल भी लगा सकते हैं पर एक बात का ध्यान रखें कि वह फूल अवश्य साफ सुथरा रहे।
  3. अपने घर के लिविंग रूम में रंग बिरंगे फूल रखें क्योंकि हर कोई बाहर से आकर लिविंग रूम में ही बैठते हैं इससे लिविंग रूम में बैठने वाला इंसान में पॉजिटिव एनर्जी आ जाती है।
  4. कभी भी अपने बेडरूम में एक फूल रखें या तो फूलों को जोड़ों में रखें या तो फूलों का एक गुच्छा ही रखें।
  5. सूखे या बेजान फूलों को घर में कभी भी ना रखे है यह फूल घर के लिए शुभ नहीं माने जाते है  ।
  6. परिजात का पौधा घर के पूर्व दिशा में लगाएं इससे वास्तु दोष कम हो जाता है।
  7. घर में तुलसी का पौधा भी उत्तर पूर्व की दिशा में लगाएं इससे में वास्तु दोष कम हो जाता है।
  8. सफेद आक का पौधा घर में जरूर लगाएं इसे शिव की कृपा घर को प्राप्त होती है।
  9. पीले रंग का फूल जैसे चंपा चमेली और गेंदे का फूल घर में जरूर लगाएं इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न हो जाती है।
  10. पाम या रबड़ का पौधा टॉयलेट में जरूर लगाएं इससे टॉयलेट का वास्तु दोष कम हो जाता है।

वास्तु अनुसार कैसे लाएं अपने घर में प्यार पैसा और प्रसिद्धि

उत्तर पश्चिम के कोने में कभी भी कूड़ा कचरा न रखें ये कोना कुबेर का कोना माना जाता है।
दक्षिण पूरब के कोने में कभी भी अपना बेडरूम ना बनाएं इसे क्लेश बढ़ता है ।अगर आप अपना बेडरूम शिफ्ट नहीं कर सकते हैं तो अपने बेडरुम में मूनस्टोन बॉल घर में रखें।
बच्चों को कभी भी दक्षिण पश्चिम  के कोने वाला कमरा नहीं देना चाहिए इससे बच्चे बहुत ही घमंडी हो जाते हैं ।किसी कारणवश अगर आप बच्चों को कोई और दूसरा कमरा नहीं दे पा रहे हैं तो बच्चों के कमरे में फैमिली तस्वीर जरूर लगाएं।
तिजोरी दक्षिण पश्चिम में ही रखना चाहिए , और इस बात का ध्यान रखिए कि तिजोरी में पैसे के अलावा  कोई भी अन्य वस्तु ना रखे। तिजोरी के अंदर चारों तरफ से शीशे  लगवाएं इस से पैसे चारों तरफ से सुरक्षित रहता है तथा पैसे में वृद्धि आती है।
रोजमर्रा खर्च के पैसे को उत्तर पूर्व की दिशा में रखें।
गोमती चक्र गोमती नदी से निकलती है, इसी कारणवश इसे बड़ा ही शुभ और पवित्र माना जाता है। अगर इसे आप अपने घर के दरवाजे पर लाल रंग के कपड़े में बांधकर लगाते हैं तो घर में पॉजिटिव एनर्जी आती है
दक्षिण पश्चिम के कोने में अगर पानी की टंकी है तो इससे आपको प्रसिद्धि मिलने में कठिनाइयां होंगी तथा अगर घर में कोई शादी का कार्य हो रहा है तो उसमें भी बहुत कठिनाइयां आएंगी।
दक्षिण पूरब के कोने में हमेशा एक लाल रंग का बल्ब जलाते रहें इससे अग्नि देव प्रसन्न रहते हैं।
उत्तर पूरब के कोने में एक बड़ा सा शीशा लगाएं इससे एक मान-सम्मान बढ़ता है।

वास्तु अनुसार घर में कौन सी चीज किस दिशा में लगाएं

  1. घर के उत्तर पूर्व दिशा में पानी का फव्वारा लगाएं
  2. घर के उत्तरी दीवार पर एक बड़ा सा शीशा लगवाएं
  3. घर के  पूरब दिशा में सूर्योदय की एक तस्वीर लगाएं
  4. घर के दक्षिण दिशा की ओर एक पहाड़ की तस्वीर लगाएं
  5. घर के दक्षिणी पश्चिमी दिशा की ओर परिवार की तस्वीर लगाएं इससे परिवार में प्यार बढ़ता है
  6. घर के दक्षिण पूरब दिशा की ओर दीया जलाएं या लाल रंग का बल्ब जलाएं इससे घर में शांति बनी रहती है
  7. जिन लोगों को नए घर लेने की इच्छा है अपने घर के पश्चिम दिशा में एक सुंदर घर की तस्वीर लगा दें
  8. घर के उत्तर दिशा में कभी भी सीढ़ियां ना बनवाए , अगर पहले से सीढ़ियां  बनी हुई है तो वहां पर एक लुकिंग ग्लास लगवा दें
  9. अपने तिजोरी के अंदर के चारों दिशाओं में शीश लगाएं इससे आपका धन चारों तरफ से सुरक्षित रहता है
  10. घर की सीढिया अगर टूटी-फूटी है तो उसे रिपेयर करवाएं अगर रिपेयर नहीं करवा सकते है, तो घर की सबसे ऊपरी सीढ़ि पर अष्टधातु का तार गर दे इसे घर में तरक्की होती है

कर्ज से मुक्ति पाने के उपाय

 

  1. भगवान गणेश की मूर्ति साउथ वेस्ट में रखें और रोजाना गणेश जी को लड्डू का भोग लगाएं
  2. 11 गोमती चक्र ले और 11 और 108 बार श्री लक्ष्मी मंत्र का जाप करें
  3. गुरुवार को तिजोरी में स्फटिक का पत्थर रखें इससे लक्ष्मी का आगमन होता है
  4. घर के मेन रोड पर तोरण लगाएं यह तोरण आम या अशोक के पत्तों का होना चाहिए
  5. धन रखने के स्थान के आसपास समुद्री नमक का एक बॉल रखें इससे धन में बुरी नजर नहीं लगती है
  6. घर के अनाजों में हर शुक्रवार को केसर डालकर रखें इससे  बरकत आती हैं
  7. शुक्रवार के दिन एक नया ताला खरीद कर लाए, शुक्रवार के दिन ही उसे घर या दुकान के मेन डोर पर लगाएं
  8. भगवान कृष्ण की मुरली बजाती हुई तस्वीर घर के पूरब दिशा में लगाएं इससे कर्ज जल्दी ही उतर जाएगा
  9. घर में किसी प्रकार की भी टूटी हुई बर्तन ना रखें इससे कर्ज चढ़ जाता है, यदि किसी कारणवश आप टूटे हुए बर्तन रख रहे हैं तो इसे उत्तर दिशा में ना रखें वह दिशा कुबेर का होता है

बच्चों के पढ़ने का टेबल कहां रखना चाहिए वास्तु अनुसार

1.पढ़ने का टेबल उत्तर या पूर्व दिशा में होना चाहिए

2.पढ़ने वक्त मुख उत्तर या पूर्व की दिशा में होना चाहिए

3.किताबों की अलमारी पश्चिम दिशा में होनी चाहिए

4.पढ़ाई करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि पीठ के पीछे एक मजबूत दीवार हो

5.बीम के नीचे बैठ कर पढ़ाई कभी नहीं करनी चाहिए , इससे दिमाग पर अत्यधिक जोर पड़ता है इससे याद रखने की छमता कम हो जाती है

6.स्टडी रूम में पीला या बैगनी रंग करवाना चाहिए, इससे बच्चों का पढ़ाई में ध्यान अत्यधिक लगता है

7.अमेथिस्ट स्टोन बच्चों के स्टडी टेबल पर रखें

8.पूरब की दीवार पर गणेशजी या सरस्वती मां की तस्वीर लगाएं

9.स्टडी टेबल पर किसी भी भगवान की तस्वीर या मूर्ति को न रखें

10.उत्तर दिशा की दीवार पर शीशा जरूर लगाएं इससे बच्चों का ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित रहता है

11.स्टडी टेबल पर सिर रखकर कभी ना सोए इससे नेगेटिव एनर्जी आती है

ऑफिस में किस दिशा में मुंह करके बैठे

वास्तु में दिशा का बहुत महत्व है। दिशा का यह महत्व घर के संदर्भ में तो है ही, ऑफिस के लिए घर से भी कहीं ज्यादा है । ऑफिस वह जगह है जहां लोग व्यापार के लिए लक्षित होकर काम करते हैं. यह जगह धन सृजन के साथ-साथ प्रतिष्ठा और महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति की जगह है ।

Read More