पितरों को प्रसन्न करने के कुछ अचूक उपाय

ऐसा माना जाता है कि पितरों के प्रसन्न रहने पर धन की कभी भी  कमी नहीं होती है
हर सोमवार को 1 किलो चावल मंदिर लेकर जाएं और एक मुट्ठी चावल शिवलिंग के ऊपर चढ़ा दें और बाकी बचा हुआ चावल गरीबो में दान दे, ऐसा लगातार 5 सोमवार करने से ही आपकी धन की कमी दूर हो जाएगी
अगर आप नौकरी चाहते हैं या नौकरी में तरक्की पाने की चाहत रखते हो तो मीठा चावल बना कर कौआ को खिलाएं इससे पितरों प्रसन्न होते हैं और पितरदोष भी कट जाता है
पितरदोष को पूरी तरह मिटाने के लिए को अमावस्या के दिन कौआ को मीठी रोटियां या मीठी चावल खिलाएं यह काम सुबह-सुबह करें, शाम या दोपहर के समय ना करे
पितर जाते-जाते प्रसन्न रहें इसके लिए आप अपने दरवाजे पर एक दीपक जलाएं और तथा खाने के लिए भी वहां पर कुछ रख दें इसे पितर के जाते समय उनके रास्ते में रोशनी बनी रहती है तथा उन्हें भूख भी नहीं लगती है
अपने पितरों की तस्वीर दक्षिण दिशा में लगाएं अपने पितरों की तस्वीर पर हार चढ़ाएं और दीपक जला कर आरती करें  इसे पितरदोष में मुक्ति मिलेगी
एक खाना अपने पूर्वजों के मनपसंद का बनवाए और वह खाना पंडितों तथा गरीबों को खिलाएं, इससे पितर  प्रसन्न होंगे और आशीर्वाद देकर जाएंगे
अपनी समर्थ अनुसार गरीबों को खाना खिलाएं और कपड़ों का वितरण करें इससे भी इससे भी पितर प्रसन्न होते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *