नारियल से खुलेगी आप की सोई हुई किस्मत

ग्रहों के अनुसार ऐसा माना जाता है कि इंसान के जीवन में 3 ग्रह उसे बहुत ही परेशान करते हैं और वह ग्रह हैं शनि राहु केतु है । यदि आपके जीवन में यह तीन ग्रह शांत और खुश रहेंगे तो आपके जीवन में किसी प्रकार की कोई कठिनाई नहीं आएगी । अगर आप इन तीन ग्रहों को खुश करना चाहते हैं, तो एक काला कपड़ा लीजिए फिर उस काले कपड़े में एक नारियल ,100 ग्राम jजौ , 100 ग्राम काली तिल तथा 100 ग्राम काली उड़द की दाल, एक लौहा के किल के साथ बांध ले, फिर उसे शनिवार को बहते हुए पानी में प्रवाहित कर दें । प्रवाहित करने के बाद आप वहां से चले जाए और इस बात का ध्यान रखें कि पीछे मुड़कर ना देखें ।

एक जटा वाला नारियल लेकर उसे सवा मीटर लाल कपड़े में बांध लें, फिर आपके परिवार में ऐसा कोई व्यक्ति जो काफी दिनों से बीमार है या कोई ऐसा छोटा बच्चा जिसे नजर लग गई हो तो , उस लाल कपड़े से बंधे नारियल को लीजिए और उस व्यक्ति के सर से पाव तक घड़ी की दिशा में घुमाएं । अंत में उसे नारियल को ले और मंदिर में जाकर हनुमान जी के चरणों के नीचे रख दें, मंदिर से हनुमान जी के चरणों का सिंदूर ले और फिर उसे घर पे आकर उस व्यक्ति को वह सिंदूर लगाएं, जो बीमार है या जिसे नजर लग गई हो ।
अगर आपके कुंडली में राहु दोष है तो बुधवार की रात को एक नारियल को ले,फिर उस नारियल को अपने सिर के पास रख कर सो जाएं ठीक उसके दूसरे दिन कुछ दक्षिणा के साथ उस नारियल को गणेश मंदिर में अर्पित कर दें, इसके बाद आप गणेशजी के समक्ष बैठकर गणेश श्लोक का पाठ करें या गणेश जी को 108 दुभा समर्पित करें ।
अगर आप आर्थिक समस्याओं से जूझ रहे हैं तो 8 मंगलवार को मंदिर में जाकर एक नारियल पर स्वास्तिक बनाएं और हनुमान जी के चरणों में उस नारियल को अर्पित करें इसके बाद चमेली के तेल में सिंदूर मिलाकर आप हनुमान जी पर चढ़ाएं  इसके बाद आप लाल फूल गुड़ या लाडू का भोग लगाएं इसे हनुमान जी बहुत प्रसन्न होते है ।
आपकी कुंडली में यदि शनि का दोष है तो आप एक सूखा नारियल ले, उसे ऊपर से थोड़ा सा काट दे और मुंहा बना लें अब उसमें मेवा, ५ रुपए ,गुड या गुड का चूड़ा डाल दें । अब उस नारियल को पीपल के पेड़ के नीचे थोड़ी सी जगह में खोद कर उस नारियों को गाड़ दें ,अब वहां से वापस चले आए और मुड़ कर ना देखें । इस बात का अत्यधिक ध्यान रखें कि नारियल सूखा ही हो ।
यदि आप का व्यापार अच्छी तरीके से नहीं चल रहा है या आप  व्यापार में बार-बार हानि हो रही है तो  सवा मीटर पीला कपड़ा ले उसमें एक जनेऊ ,एक नारियल तथा सवा पाव पीला मिठाई बांध लें, फिर आप किसी लक्ष्मी नारायण मंदिर में जा कर उस पीले कपड़े में बंधी साड़ी सामग्रियों को पंडित को देकर संकलप करवाएं और अपनी सारी गलतियों की माफी मांगे और भगवान से प्रार्थना करे की “हे भगवान मेरे व्यापार में व्यापार में वृद्धि हो तथा रस्ते में आने वाली सारी कठिनाइयां दूर हो जाए” ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *